बेरूत में पोर्ट पर अमोनियम नाइट्रेट के एक गोदाम में हुए धमाके ने सिर्फ बेरूत के ही नहीं, बल्कि मध्य-पूर्व देशों के भी कला जगत को भी भारी नुकसान पहुँचाया है

लेबनान की राजधानी बेरूत में पोर्ट पर अमोनियम नाइट्रेट के एक गोदाम में हुए धमाके से जान-माल के भारी नुकसान के साथ कला जगत को भी बड़ी चोट पहुँची है । बेरूत चूँकि मध्य-पूर्व देशों के कलाकारों तथा वहाँ की ऑर्ट गैलरीज के लिए भी एक प्रमुख केंद्र है, इसलिए धमाके से हुआ नुकसान सिर्फ बेरूत के कला जगत का ही नहीं, बल्कि मध्य-पूर्व देशों के कला जगत का भी नुकसान है । बेरूत के कई म्यूजियम्स तथा ऑर्ट गैलरीज उक्त धमाके की चपेट में आई हैं, और उनकी इमारतों के साथ-साथ महत्त्वपूर्ण कलाकृतियों को नुकसान हुआ है । पोर्ट के नजदीक स्थित गैलरीज तो पूरी तरह तहस-नहस हो गई हैं । कुछेक गैलरीज के अधिकारी व कर्मचारी बुरी तरह घायल होने के कारण अस्पताल में हैं, और इस वजह से उनके लिए यह देख पाना तक असंभव हुआ है कि बचा क्या है और उसे कैसे सहेजा जा सकता है । बेरूत के सांस्कृतिक जीवन का पर्याय समझा जाने वाला सुरसोक म्यूजियम, जिसके नवीनीकरण पर अभी हाल ही में काफी रकम खर्च की गई थी, बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुआ है । जानकारों के अनुसार, इस म्यूजियम को ऐसा नुकसान तो गृहयुद्ध के दौरान भी नहीं हुआ था । अगले वर्ष आयोजित होने वाले बेरूत ऑर्ट फेयर के लिए तय किया गया स्पेस जिस तरह से नष्ट हुआ है, उसे देख कर आयोजकों ने उसके आयोजित हो सकने की उम्मीद छोड़ दी है । कोरोना वायरस के प्रकोप से बने हालात तथा डॉलर की बढ़ती कीमत के कारण बेरूत का कला जगत पहले से ही मुसीबतों का सामना कर रहा था, जिसे एक पोत से जब्त किए गए अमोनियम नाइट्रेट को असुरक्षित तरीके से रखे जाने के कारण हुए हादसे ने और बढ़ा दिया है । 

Comments

Popular posts from this blog

विवान सुंदरम को समकालीन भारतीय कला की हत्या का जिम्मेदार ठहरा कर जॉनी एमएल समकालीन भारतीय कला के दूसरे प्रमुख कलाकारों को भी अपमानित करने का काम नहीं कर रहे हैं क्या ?

प्रख्यात चित्रकार गोपी गजवानी की फिल्मों में अभिव्यक्त 'स्थितियाँ' हमारे 'देखने' को बहु-आयाम में देखना बनाती हैं

कला बाजार में जोरदार सफलता पाने वाले जितिश कल्लट तथा उनके जैसे कामयाब कलाकारों की कलाप्रेमियों के बीच वैसी पहचान और प्रतिष्ठा आखिर नहीं बन पाई है, जैसी पहचान व प्रतिष्ठा उनके पूर्ववर्ती कलाकारों को मिली है